Friday, December 2, 2016

आधार कार्ड नहीं है तो जल्दी बनवा लीजिये सरकार लेने वाली है बड़ा फेंसला

Tags



जल्‍द ही आपका आधार कार्ड बन जाएगा डेबिट कार्ड या अन्‍य पेमेंट कार्ड। यदि सरकार की यह योजना सफल हो जाती है तो आप आधार कार्ड को डेबिट कार्ड की तरह इस्‍तेमाल कर सकेंगे। आप अपने आधार कार्ड का इस्तेमाल तमाम तरह के पेमेंट करने में कर सकेंगे। कैशलेस इकॉनमी की ओर अग्रसर सरकार इस संबंध में पूरी कोशिश कर रही है। सरकार अब कैशलैस इकोनॉमी को बढ़ावा देने के बारे में विचार कर रही है।
http://www.happy-new-year-2017-images.com/
अगर सरकार आधार कार्ड पर यह फेंसला ले लेती है तो आपको डेबिट कार्ड का इस्तेमाल नहीं करना पड़ेगा।12 डिजिट वाला आधार नंबर आपके डेबिट और क्रेडिट कार्ड सहित हर तरह के ट्रांजैक्शन की जगह ले सकता है। इसका मतलब है कि भविष्य में किसी भी तरह की शॉपिंग या ट्रांजेक्शंस के लिए कस्टमर को अपने साथ क्रेडिट और डेबिट कार्ड ले जाने की जरूरत नहीं होगी। उसे सिर्फ अपना आधार नंबर बताना होगा और अथॉन्टिकेशन के साथ ही ट्रांजेक्शन हो जाएगा। यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (यूआईडीएआई) इसके लिए आधार इनेबल्ड पेमेंट सिस्टम (एईपीएस) सिस्टम विकसितकर रहा है, जिससे यह संभव होगा।

भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकार (यूआईडीएआई) की योजना आधार के जरिए बायोमेट्रिक आथेंटिकेशन क्षमता को बढाकर 40 करोड़ प्रतिदिन करना है ताकि नकदीविहीन समाज के लक्ष्य को हासिल करने में इस प्लेटफार्म के इस्तेमाल को बढ़ावा दिया जा सके। प्राधिकार के मुख्य कार्याधिकारी अजय भूषण पांडे ने संवाददाताओं को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि यूआईडीएआई अपनी बायोमेट्रिक जानकारी के प्रमाणन की क्षमता को बढ़ाकर 40 करोड़ प्रतिदिन करेगा। उन्होंने कहा कि हम लेनदेन के इस तरीके बारे में जागरकता फैलाएंगे। हम अपनी प्रमाणन क्षमता को बढाकर 40 करोड़ करेंगे। कल 1.31 करोड़ आधारत आधारित बायोमेट्रिक प्रमाणन किए गए।
 
सरकार इस समय एक आम मोबाइल फोन एप बनाने पर काम कर रही है जिसका इस्तेमाल करते हुए दुकानदार व कारोबारी आधार-आधारित भुगतान हासिल कर सकेंगे। इस तरह से वे क्रेडिट या डेबिड कार्ड, पिन व पासवर्ड की प्रक्रिया से बच जाएंगे। इस मोबाइल एप में हैंडसेट का इस्तेमाल आधार-आधारित भुगतान करने में ग्राहक की बायोमेट्रिक जानकारी का प्रमाणन करने में किया जाएगा।


EmoticonEmoticon